विधुत धारा का चुंबकीय प्रभाव Objective
दोस्तों के साथ शेयर करें

Bihar Board 12th Physics Objective Question – विधुत धारा का चुंबकीय प्रभाव

नमस्कार दोस्तों Hindi-Exam.Com पर आपका स्वागत है, इस पोस्ट में Bihar Board 12th Physics के पाठ विधुत धारा का चुंबकीय प्रभाव का सम्पूर्ण Objective Question-Answer दिया है ,जैसा की आप जानते है कि आजकल Bihar Board 12th Physics परीक्षा में बहुत ज्यादा Objective Question पूछा जा रहा है !

इसी को ध्यान में रखते हुए हम आपके के लिए Bihar Board 12th Physics परीक्षा के लिए ऐसे Objective Question लाये है, जो आपके आनेवाले Exam के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होगा ! इसीलिए हमारी सलाह है की दिए गये विधुत धारा का चुंबकीय प्रभाव पाठ का Objective Question ध्यान से पढ़े ! बार- बार पढ़े जिससे आपकी तैयारी अच्छी हो जाए !

विधुत धारा का चुंबकीय प्रभाव

1. एक तार जिसका चुम्बकीय द्विध्रुव आघूर्ण M तथा लम्बाई L है, को त्रिज्या r के अर्द्धवृत्त के आकार में मोड़ा जाता है। नया द्विध्रुव आघूर्ण क्या होगा?
(A) M
(B) M/2π
(C) M/π
(D) 2M/π
Ans. (D)

2. लम्बे सीधे चालक से I ऐम्पियर धारा प्रवाहित होने से इसके r दूरी पर चुम्बकीय क्षेत्र होता है:
Bihar Board Objective

3. जब कोई आवेशित कण एक ऐसे क्षेत्र में गति करता है, जहाँ चुंबकीय क्षेत्र विद्यमान हो, तब :
(A) कण के वेग का परिमाण बदलता रहता है।
(B) वेग अचर रहता है।
(C) संवेग की दिशा बदलती रहती है।
(D) कण की गतिज ऊर्जा बदलती रहती है।
Ans. (B)

4. समान लम्बाई के तीन अलग-अलग चुम्बकों के अनुप्रस्थ काट का क्षेत्रफल क्रमशः A, 2A तथा 6A है। उनके चुंबकीय आघूर्ण का अनुपात होगा:
(A) 6 : 2 : 1
(B) 1 : 2 : 6
(C) 2 : 6 : 1
(D) 1 : 1 : 1
Ans. (B)

5. एक इलेक्ट्रॉन क्षैतिज तल में पूरब दिशा में गति कर रहा है। एक चुंबकीय क्षेत्र उदग्रतः नीचे की दिशा में विद्यमान है। इस चुंबकीय क्षेत्र द्वारा इलेक्ट्रॉन पर बल लगाया जायेगा:
(A) दक्षिण दिशा में
(B) पूरब दिशा में
(C) पश्चिम दिशा में
(D) उत्तर दिशा में
Ans. (D)

6. चुम्बकीय क्षेत्र के फ्लक्स की S.I. इकाई होती है:
(A) टेसला
(B) हेनरी
(C) वेबर
(D) जूल सेकेण्ड
Ans. (A)

7. चुम्बकीय क्षेत्र 12th Bihar Board Objective का ऊर्जा घनत्व होता है :
12th Bihar Board Objective

8. A क्षेत्रफल के वृतीय पाश के केद्र पर चुम्बकीय क्षेत्र B है, तो उस पाश का चुम्बकीय आघूर्ण होगा :
12th Bihar Board Objective

9. यदि L प्रेरकत्व, R प्रतिरोध एवं C संधारित्र की धारिता हो, तो L/R एवं RC का विमीएँ सूत्र है:
(A) M°LT-1, ML°T-1
(B) M°L°T, MLT°
(C) M°L°T, 1
(D) M°L°T. M°L°T
Ans. (D) ‘

10. समरूप वेग से चलायमान आवेश उत्पन्न करता है: ।
(A) केवल विद्युत क्षेत्र
(B) केवल चुम्बकीय क्षेत्र ।
(C) विद्युत चुम्बकीय क्षेत्र
(D) इनमें से कोई नहीं
Ans. (C)

11. डायनेमो के कार्य का सिद्धांत आधारित है:
(A) धारा के ऊष्मीय प्रभाव पर
(B) विद्युत चुम्बकीय प्रेरण पर
(C) चुम्बकीय प्रेरण पर
(D) विद्युतीय प्रेरण पर
Ans. (B)

12. लॉरेन्ज बल की दिशा ज्ञात करने का नियम है :
(A) फ्लेमिंग के बायें हाथ का नियम
(B) फ्लेमिंग के दायें हाथ का नियम
(C) ऐम्पियर के तैरने का नियम
(D) मैक्सवेल के दायें हाथ के पेंच का नियम
Ans. (A)

12th Physics ‘विधुत धारा’ का सम्पूर्ण Objective

13. 1 mA परास तथा 1.0 Ω प्रतिरोध वाले मिली-ऐमीटर को 10V परास वाले वोल्टमापी में बदलने के लिए उसके साथ कितना व किस क्रम में प्रतिरोध जोड़ना होगा :
(A) 999 Ω श्रेणीक्रम में
(B) 999 Ω समान्तर क्रम में
(C) 9999 Ω श्रेणीक्रम में
(D) 9999 Ω समान्तर क्रम में
Ans. (C)

14. एक धारामापी 2A की धारा से पूर्ण विक्षेप देता है। धारामापी का प्रतिरोध 12 Ω है। धारामापी की परास 5A करने के लिए निम्न प्रतिरोध संयोजित करना होगा :
(A) 8 Ω श्रेणीक्रम में
(B) 18 Ω श्रेणीक्रम में
(C) 8 Ω समान्तर क्रम में
(D) 18 Ω समान्तर क्रम में
Ans. (C)

15. साइक्लोट्रॉन किस कण को उच्च ऊर्जा तक त्वरित करने के लिए उपयुक्त नहीं है:
(A) प्रोटॉन
(B) इलेक्ट्रॉन
(C) ड्यूट्रॉन
(D) alfa-कण
Ans. (B)

16. चुम्बकीय क्षेत्र में गतिमान आवेशित कण पर लगने वाले चुम्बकीय बल का सूत्र है:
(A) F = qvB
(B) F =qvB sinθ
(C) F = q/vB
(D) F = vB sinθ/q
Ans. (B)

17. L लम्बाई, i धारा तथा N फेरों वाली परिनालिका के मध्य चुम्बकीय क्षेत्र का व्यंजक होता है :
12th Bihar Board Objective

18. एक लम्बी परिनालिका में प्रति सेमी 200 फेरे हैं और उसमें 2.5 की धारा बह रही है। परिनालिका के केन्द्र पर चुम्बकीय क्षेत्र का मान होगा:
(A) 3.14 x 10-2वेबर/मीटर2
(B) 6.28 x 10-2वेबर/मीटर2
(C) 9.42 x 10-2वेबर/मीटर2
(D) 12.56 x 10-1वेबर/मीटर2
Ans. (B)

19. R त्रिज्या के वृत्तीय लूप में धारा प्रवाहित होने के कारण उसके केन्द्र पर उत्पन्न चुम्बकीय प्रेरण B है। लुप का चुम्बकीय आघूर्ण है:
12th Bihar Board Objective

20. किसी परिपथ में कुल धारा की 5% धारा गैल्वेनोमीटर में से प्रवाहित की जाती है। यदि गैल्वेनोमीटर का प्रतिरोध G हो, तो शंट का मान होगा:
(A) 19 G
(B) 20 G
(C) G/20
(D) G/19
Ans. (D)

21. विद्युत धारा के चम्बकीय प्रभाव की खोज निम्न में से किस वैज्ञानिक ने की:
(A) फ्लेमिंग
(B) ऐम्पियर
(C) ओस्टेंड
(D) फैराडे
Ans. (C)

22. एक गतिमान स्वतंत्र आवेश उत्पन्न करता है :
(A) केवल स्थिर विद्युत क्षेत्र
(B) केवल चुम्बकीय क्षेत्र
(C) स्थिर विद्युत क्षेत्र और चुम्बकीय क्षेत्र दोनों
(D) इनमें से कोई नहीं
Ans. (C)

23. एक आवेशित कण को स्थायी व समरूप विद्युत व चुम्बकीय क्षेत्रों में जो परस्पर समान्तर हैं, विरामावस्था से छोड़ा जाता है। कण गति करेगा:
(A) सरल रेखा में
(B) वृत्त में
(C) कुण्डलिनी में
(D) चक्रण में
Ans. (A)

24. चुम्बकीय क्षेत्र में गतिमान कण का अपरिवर्तित रहता है :
(A) वेग
(B) केवल चाल
(C) केवल गतिज ऊर्जा
(D) चाल और गतिज ऊर्जा दोनों
Ans. (D)

25. एक आवेशित कण वेग से B चुम्बकीय क्षेत्र में गतिमान है। कण पर लगने वाला बल अधिकतम होगा, जब :
(A) v और B एक ही दिशा में हों
(B) v और B परस्पर लम्बवत् हो
(C) v और B एक-दूसरे के विपरीत हो
(D) v और B परस्पर 45° के कोण पर हो
Ans. (B)

26. आदर्श वोल्टमीटर का प्रतिरोध होता है :
(A) शून्य
(B) अति लघु
(C) अति वृहद
(D) अनन्त
Ans. (D)

27. एक गैल्वेनोमीटर को वोल्टमीटर में परिवर्तित किया जा सकता है, जोड़कर :
(A) समान्तर क्रम में उच्च प्रतिरोध
(B) श्रेणीक्रम में उच्च प्रतिरोध
(C) श्रेणीक्रम में निम्न प्रतिरोध
(D) समान्तर क्रम में निम्न प्रतिरोध
Ans. (B)

कक्षा-12 PHYSICS का Chapter- wise सम्पूर्ण हल

28. चल कुण्डल धारामापी की सुग्राहता बढ़ाई जा सकती है :
(A) कुण्डली में फेरों की संख्या घटाकर
(B) चुम्बकीय फ्लक्स बढ़ाकर
(C) कुण्डली का क्षेत्रफल घटाकर
(D) प्रति एकांक ऐंठन को बढ़ाकर
Ans. (B)

29. गैल्वेनोमीटर में शंट का उपयोग किया जाता है :
(A) उसकी सुग्राहिता बढ़ाने के लिए
(B) उसका प्रतिरोध बढ़ाने के लिए
(C) उच्च धारा से उसकी सुरक्षा के लिए
(D) उसे वोल्टमापी में बदलने के लिए
Ans. (C)

30. अनन्त लम्बाई के एक सीधे तार में 1A धारा प्रवाहित हो रही है। इससे 1 मीटर दूर बिन्दु पर चुम्बकीय क्षेत्र है :
(A) 2 x 10-3 T
(B) 0.2 T
(C) 2 x 10-7 T
(D) 2π x10-6 T
Ans. (C)

31. चुम्बकीय प्रेरण (Magnetic Induction) की विमा है:
(A) ML°T--2T--1
(B) MLT21°
(C) MI
(D) M--1/sup>L--1T2I
Ans. (A)

32. किसी चल कुण्डल धारामापी के विक्षेप θ और उसमें प्रवाहित धारा में संबंध है:
(A) i α tanθ
(B) i α θ
(C) i α θ2
(D) i α 1/θ
Ans. (B)

33. R त्रिज्या की वृत्ताकार कुण्डली में धारा प्रवाहित हो रही है। कुण्डली के केन्द्र पर चुम्बकीय क्षेत्र B0 है। कुण्डली की अक्ष पर इसके केन्द्र से कितनी दूरी पर चुम्बकीय क्षेत्र का मान B0/8 होगा :
(A) √7 R
(B) √3R
(C) 2 R
(D) 8 R
Ans. (B)

12th Physics ‘विधुत परिपथ’ का सम्पूर्ण Objective

34. दो समान्तर तारों में परस्पर विपरीत दिशाओं में धाराएँ प्रवाहित हो रही हैं वे :
(A) एक-दूसरे को प्रतिकर्षित करते हैं
(B) एक-दूसरे को आकर्षित करते है
(C) एक-दूसरे पर कोई बल नहीं लगाते
(D) एक-दूसरे की धाराओं को नष्ट करते हैं
Ans. (A)


दोस्तों के साथ शेयर करें

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!